पुनश्च

जुलाई 4, 2006 को 10:26 अपराह्न | Posted in Uncategorized | टिप्पणी करे

कुछ अत्यन्त ही महत्वपूर्ण व्यक्तिगत घटनाओं के कारण मैं चिट्ठाजगत से पिछ्ले कुछ महीनों से दूर था| बिन बताए जाने के लिये क्षमा-प्रार्थी हूँ| पिछले दो-तीन महीनों में जीवन-समुद्र की लहरों ने कभी इस पार ला पटका, कभी उस पार, जिसे शब्दों में व्यक्त करना दुष्कर है| अतुल से आज की बात-चीत ने ताज़ा घटनाओ से परिचित कराया, और अब मैं फिर से कुछ लिखने का प्रयास करूँगा|

टिप्पणी करे »

RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

WordPress.com पर ब्लॉग.
Entries और टिप्पणियाँ feeds.

%d bloggers like this: