चिट्ठा-शेर

जुलाई 17, 2006 को 9:59 अपराह्न | Posted in हास्य-व्यंग्य | 5 टिप्पणियाँ

मुलाहिज़ा फ़रमाइये-

उनकी हर लाइन पर दस कमेन्ट आते है‍-

हम रात भर लिखते हैं तो चर्चा नहीं होता!

🙂

Advertisements

5 टिप्पणियाँ »

RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

  1. ठीक कहा 😦

  2. उन्मुक्त जी…है तो मज़ाक पर कभी कभी कितना सही लगता है..
    आपके चिट्ठे पर जाने पर यह सन्देश दिखता है:
    “This user has elected to delete their account and the content is no longer available.

    You can create your own free blog on WordPress.com.”

  3. आपके इस जवाब ने तो मुझे परेशान कर दिया| मैं तीन चिट्ठे, उन्मुक्त, छुटपुट, और लेख लिखता हूं उन्मुक्त ब्लौगर डाट कौम पर है और बाकी दो वर्ड-प्रेस पर| इसमें कोई भी मैने delete नहीं किया है| उंमुक्त का चिट्ठा
    http://unmukt-hindi.blogspot.com/
    पर है|आप मजाक कर रहें हैं ना

  4. उन्मुक्त जी..आपके पिछले कमेन्ट में आपका यू आर एल unmukt.wordpress.com लिखा हुआ है…जिसे चटकाने पर उपर्युक्त सन्देश आता है. ब्लाग्स्पाट वाला चिट्ठा काम कर रहा है..!

  5. […] मेरे लेख चिट्ठे पर एक दिन मितुल पटेल जी ने टिप्पणी करके पूछा, कि क्या वह मेरे लेखों को हिन्दी वीकिपीडिया में डाल सकते हैं। सच तो यह है कि उन्हे इस तरह की कोई अनुमति की आवश्यकता नहीं थी क्योंकि मेरे तीनो चिट्ठों की चिट्ठियां या बकबक पर पॉडकास्ट कॉपी-लेफ्टेड हैं। किसी को भी इनका किसी प्रकार से प्रयोग करना, या संशोधन करना, या संशोधन करके प्रयोग करने की स्वतंत्रता है। यदि आप ऐसा करते समय इसका श्रेय मुझे देते हैं या उस चिट्ठी से लिंक देते हैं तो मुझे प्रसन्नता होगी, यदि नहीं देते हैं तो भी कोई बात नहीं। मेरा मक्सद, अपनी बात सामने लाने का है, चाहे इसका माध्यम मैं बनू या कोई और; चाहे इसका श्रेय मुझे मिले या किसी और को। यह बात अलग है कि किसी ने मेरे लेख को अपना लेख नहीं कहा मितुल जी ने यह सब होते हुए भी मुझसे पूछा तो अच्छा लगा। कम से कम किसी को तो मेरे विचार, मेरे लेख पसन्द आये वरना मेरी चिट्ठियों पर यह बात इनसे ज्यादा मुझ पर लागू होती है। […]


एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

वर्डप्रेस (WordPress.com) पर एक स्वतंत्र वेबसाइट या ब्लॉग बनाएँ .
Entries और टिप्पणियाँ feeds.

%d bloggers like this: